Tag: poetry

मैंने कृष्ण जी के लिए कुछ लिखने की सोचा, जिन्होंने हमें ऐसी अद्भुत रचना भेंट की।
What all thoughts would cross your mind if you came to know that today is your last day? What would you do?
यह कविता मेरे दिल के बहुत करीब है, क्योंकि इसमें मेरी बचपन की बहुत सारी यादें हैं। यह मेरी बहनों के बारे में है। मेरी तीन प्यारी बहनें। सच कहूं, तो बचपन का बहुत कुछ याद नहीं,लेकिन कुछ यादें ऐसी हैं लगता है कल की ही हैं। कुछ मासूमियत भरी, तो कुछ जिनमे खुशियां हैं […]
Once you understand how your words affect someone's whole life, their decisions, their behaviour, their view about themselves and about the world, you will surely think before you speak. You will understand what really matters!
कभी किसी को देख के लगता है की ये कुछ अलग ही है, इसके अंदर कुछ अलग करने की चाह है। कुछ ऐसे ही लोगों की कहानी लिखी है इस कविता में।
एक छोटा सा एक्सपेरिमेंट है। वर्णमाला के क्रम में एक कविता लिखने का। युगों का एक चक्र है। मतलब की कलियुग के बाद फिर से या तो त्रेतायुग या सतयुग आएगा, जब हर चीज़ फिर से बेहतर हो जाएगी। उन्ही दिनों को दिखाया है इस कविता में।
Archives
Follow by Email
LinkedIn
LinkedIn
Share
Instagram